पीएम मोदी की नसीहत के बाद आकाश विजयवर्गीय को निलंबित कर सकती है बीजेपी : सूत्र
Latest News
bookmarkBOOKMARK

पीएम मोदी की नसीहत के बाद आकाश विजयवर्गीय को निलंबित कर सकती है बीजेपी : सूत्र

By Ndtv calender  02-Jul-2019

पीएम मोदी की नसीहत के बाद आकाश विजयवर्गीय को निलंबित कर सकती है बीजेपी : सूत्र

पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) की कड़ी आलोचना के बाद आकाश विजयवर्गीय (Akash Vijayvargiya) के खिलाफ कड़ी कार्रवाई पर बीजेपी विचार कर रही है. राज्य इकाई से केंद्रीय नेतृत्व की हुई चर्चा हुई है और सूत्रों के अनुसार संभावना है कि आकाश विजयवर्गीय (Akash Vijayvargiya) को कारण बताओ नोटिस भेजा जाएगा और उन्‍हें निलंबित भी किया जा सकता है. इंदौर बीजेपी इकाई के कुछ नेताओं के खिलाफ भी कार्रवाई हो सकती है. गौरतलब है कि आकाश की जेल से रिहाई के बाद शहर इकाई ने उनका स्वागत किया था.
मंगलवार को ही प्रधानमंत्री मोदी ने आकाश विजयर्गीय द्वारा एक अधिकारी को पीटने से जुड़े घटनाक्रम पर गहरा संज्ञान लेते हुए नसीहत दी कि ‘बेटा किसी का हो, मनमानी नहीं चलेगी.' हालांकि, प्रधानमंत्री ने इस संदर्भ में किसी का नाम नहीं लिया. सूत्रों ने बताया कि भाजपा संसदीय पार्टी की बैठक में प्रधानमंत्री ने मंगलवार को कहा, ‘बेटा किसी का हो, ऐसा व्यवहार बर्दाश्त नहीं किया जायेगा.' उन्होंने कहा कि किसी भी प्रकार का दुर्व्यवहार, जो पार्टी का नाम कम करता है, अस्वीकार्य है. उन्होंने कहा कि अगर किसी ने कुछ गलत किया है तो कार्रवाई की जानी चाहिए. उन्होंने यह भी कहा कि यह सभी पर लागू है.
वहीं भाजपा नेता राजीव प्रताप रूडी ने एनडीटीवी को बताया, 'प्रधानमंत्री बहुत नाराज थे. उन्होंने कहा कि बदसलूकी करने, पार्टी को बदनाम करने या सार्वजनिक रूप से अहंकार दिखाने का हक किसी के पास नहीं है. उन्होंने कड़े शब्दों में यह बात कही. साथ ही कहा कि ऐसी हरकतें स्वीकार नहीं है.'
सूत्रों ने बताया कि प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि जिन लोगों ने स्वागत किया है, उन्हें पार्टी में रहने का हक नहीं है, सभी को पार्टी से निकाल देना चाहिए. गौरतलब है कि कुछ ही दिनों पहले इंदौर नगर निगम का दल गंजी परिसर क्षेत्र में एक जर्जर मकान को गिराने को पहुंचा था. इसकी सूचना मिलने पर भाजपा विधायक आकाश विजयवर्गीय की नगर निगम कर्मियों से नोकझोंक हो गई और आकाश ने नगर निगम अधिकारी की बल्ले से पिटायी कर दी.

MOLITICS SURVEY

ट्रैफिक रूल्स में हुए नए बदलाव जनता के लिए !

फायदेमंद
  33.33%
नुकसानदायक
  66.67%

TOTAL RESPONSES : 24

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know