अफ़सर पर बल्ला चलाने वाले आकाश के बारे में ये बातें आपको नहीं पता होगा !
Latest News
bookmarkBOOKMARK

अफ़सर पर बल्ला चलाने वाले आकाश के बारे में ये बातें आपको नहीं पता होगा !

By Tv9bharatvarsh calender  27-Jun-2019

अफ़सर पर बल्ला चलाने वाले आकाश के बारे में ये बातें आपको नहीं पता होगा !

BJP के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के विधायक बेटे आकाश की गुंडागर्दी का वीडियो बुधवार को सामने आया है. अतिक्रमण हटाने क्षेत्र में गए नगर निगम के अधिकारियों को आकाश विजयवर्गीय क्रिकेट बैट से पीटते नजर आए. जानिए कौन हैं आकाश विजयवर्गीय
फेसबुक प्रोफाइल के मुताबिक 12 सितंबर 1984 को आकाश विजयवर्गीय का जन्म हुआ. आकाश ने अपने राजनीतिक जीवन का पहला चुनाव 2018 में हुए मध्य प्रदेश विधान चुनाव में इंदौर-3 से लड़ा.
आकाश विजयवर्गीय ने विधानसभा चुनाव में कांग्रेस उम्मीदवार अश्विन जोशी को 5,751 मतों से शिकस्त दी थी. इंदौर-3 सीट पर हुए इस उतार-चढ़ाव भरे मुकाबले में आकाश को 67,075 वोट मिले थे, जबकि जोशी के खाते में 61,324 मत आये थे.
ये भी पढ़ें  कैकेयी की तरह कोप भवन में बैठना समाधान नहीं, राहुल क्यों छोड़ना चाहते हैं अध्यक्ष का पद?
आकाश विजयवर्गीय की फेसबुक प्रोफाइल के मुताबिक
बचपन से ही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़े.
2008 में आकाश ने BJP को ज्वॉइन किया.
11 नवंबर 2012 से दीनदयाल मंडल के ज़िला अधिकारी के रूप में सेवारत. 
चुनावी हलफनामे के मुताबिक
  • आयु -34 साल
  • शैक्षिक योग्यता- पोस्ट ग्रेजुएट
  • आपराधिक मामले-2
  • संपत्ति-34 करोड़
आकाश विजयवर्गीय इसके पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ विवादित टिप्पणी करने पर विवादों में रहे थे.
यह की थी टिप्पणी
आकाश विजयवर्गीय ने 2019 लोकसभा चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को ‘गधों का सरताज’ कहा था. आकाश ने यह बात कांग्रेस पार्टी द्वारा एयर स्ट्राइक पर सवाल उठाने और ओसामा को सम्मान देने जैसे मुद्दे को लेकर भारतीय युवा मोर्चा के विरोध प्रदर्शन में कहीं थी.
इस विरोध प्रदर्शन के दौरान आकाश ने एक पुतला बनाया, जिस पर गधे का चेहरा लगाया और फिर राहुल गांधी को लेकर यह बयान दिया. आकाश अपने ट्वीटर हैंडल से भी ट्वीट करते हुए कांग्रेस पर सवाल खड़े किए थे.
फेसबुक प्रोफाइल में लिखे ये विचार
आकाश विजयवर्गीय ने अपनी फेसबुक प्रोफाइल में लिखा है, ”राष्ट्रनिर्माण, देशप्रेम व समग्र विकास के विचार के साथ और स्वामी विवेकानंद जी के शब्दों को आत्मसात करते हुए राष्ट्र प्रगति में अपना योगदान देने निकल पड़ा हूँ.
बचपन से ही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के माध्यम से राष्ट्रीय विचारधारा से जुड़कर जीवन के लक्ष्यों का संज्ञान प्राप्त कर सका और शिक्षा प्राप्ति के पश्चात २००८ से मुझे भाजपा से जुड़ने का अवसर मिला और वर्तमान में ११ नवंबर २०१२ से दीनदयाल मंडल के ज़िला अधिकारी के रूप में सेवारत हूँ .
भारत एक युवा देश है व इसका भविष्य आज के युवाओं द्वारा ही सँवारा जाएगा, इसलिए यह आवश्यक है कि हम सभी युवा अपनी असीम ऊर्जा का उपयोग राष्ट्र निर्माण के सुकार्य में लगाकर युवा भारत के मजबूत स्तंभ बनें.
आज का युवा प्रगतिशील है, शिक्षित है, जागरूक है, तकनीकी दक्ष है और समय के साथ कदम मिला बढ़ने को तैयार है. सोशल मीडिया एक ऐसा माध्यम है जिससे आज का युवा स्वयं को सर्वाधिक निकट पाता है, चाहे वह विचारों की अभिव्यक्ति हो या संपर्क में बने रहने का सशक्त माध्यम .
सामाजिक क्षेत्र व राष्ट्र हित के मुद्दों पर भी युवाओं द्वारा सोशल मीडिया के माध्यम को अंगीकार किया गया है. अतः मैं स्वयं भी इस माध्यम से आप सभी के साथ अपने विचार साझा करना चाहता हूँ और आप सभी से विचार-विमर्श कर देश में विद्यमान विभिन्न समस्याओं का हल ढूँढने का प्रयास करना चाहता हूँ.”
क्या है बल्ले से पिटाई का मामला
भारतीय जनता पार्टी के महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के विधायक बेटे आकाश की गुंडागर्दी का वीडियो बुधवार को सामने आया है. अतिक्रमण हटाने क्षेत्र में गए नगर निगम के अधिकारियों को आकाश विजयवर्गीय क्रिकेट बैट से पीटते नजर आए.
इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. विजयवर्गीय के खिलाफ थाना एमजी रोड में एफआईआर दर्ज हुई है. उनके खिलाफ IPC की धारा 353 , 294 , 506, 147, 148 के तहत मुकदमा दर्ज हुआ है. आकाश इंदौर-3 से विधायक हैं.
आकाश को गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलिस ने गिरफ्तार के बाद आकाश को कोर्ट में पेश कर दिया. उधर आकाश विजयवर्गीय के समर्थक हंगामा मचा रहे हैं.
गंजी कंपाउंड इलाके में बने एक जर्जर मकान को तोड़ने नगर निगम की टीम पहुंची थी. इसी दौरान विधायक आकाश विजयवर्गीय वहां पहुंच गए. उन्‍होंने निगम अधिकारियों को 5 मिनट में वहां से निकल जाने की धमकी दी. आकाश के समर्थकों ने पोकलेन मशीन की चाबी भी निकाल ली. फिर अधिकारियों और विधायक के बीच विवाद हो गया.
मारपीट के बाद हंगामा होने लगा. विधायक को वहां मौजूद समर्थकों और पुलिसकर्मियों ने शांत कराया. बाद में आकाश ने कहा कि वे बेहद गुस्‍से में थे. मीडिया से बातचीत में आकाश ने कहा, “ये तो सिर्फ शुरुआत है, हम इस भ्रष्‍टाचार और गुंडागर्दी को खत्‍म करके रहेंगे. आवेदन, निवेदन और फिर दनादन, यही हमारी लाइन है.” मध्‍य प्रदेश के गृहमंत्री बाला बच्‍चन ने कहा है कि कोई भी कानून हाथ में लेगा तो सख्त कार्रवाई होगी, चाहे कितना बड़ा भी नेता क्यों न हो.

MOLITICS SURVEY

मॉब लिंचिंग किस वजह से हो रही है ?

दाढ़ी
  5.66%
टोपी
  9.43%
राष्ट्रवाद
  84.91%

TOTAL RESPONSES : 53

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know