PM नरेंद्र मोदी को चुना गया दुनिया का सबसे ताकतवर शख्स, पुतिन-ट्रंप को पछाड़ा
Latest News
bookmarkBOOKMARK

PM नरेंद्र मोदी को चुना गया दुनिया का सबसे ताकतवर शख्स, पुतिन-ट्रंप को पछाड़ा

By Aajtak calender  21-Jun-2019

PM नरेंद्र मोदी को चुना गया दुनिया का सबसे ताकतवर शख्स, पुतिन-ट्रंप को पछाड़ा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारत के लिए अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर बड़ी खुशखबरी आई है. पीएम नरेंद्र मोदी को ब्रिटिश हेराल्ड के एक पोल में रीडर्स ने 2019 का दुनिया का सबसे ताकतवर शख्स चुना है. इस पोल में मोदी ने दुनिया के अन्य ताकतवर नेताओं जैसे व्लादिमीर पुतिन, डोनाल्ड ट्रंप और शी जिनपिंग को मात दी. नॉमिनेशन लिस्ट में दुनिया की 25 से ज्यादा हस्तियों को शामिल किया गया था और जज करने वाले पैनल एक्सपर्ट्स ने सबसे ताकतवर शख्स के तमगे के लिए 4 उम्मीदवारों का नाम सामने रखा. चयन प्रक्रिया का मूल्यांकन इन सभी आंकड़ों के व्यापक अध्ययन और रिसर्च पर आधारित था.
एनडीए ने इस नेता का किला ही ढहा दिया !
कैसे की गई वोटिंग
वोटिंग के लिए आम प्रक्रिया का इस्तेमाल नहीं किया गया. ब्रिटिश हेराल्ड के रीडर्स को अनिवार्य वन टाइम पासवर्ड (ओटीपी) प्रोसेस के जरिए वोट करना था. हैरानी की बात है कि वोटिंग के दौरान साइट क्रैश भी हो गई क्योंकि वोटर्स अपनी पसंदीदा हस्ती को जिताने की कोशिश में जुटे थे.  
किसको कितने वोट
शनिवार को वोटिंग खत्म होने तक पीएम नरेंद्र मोदी को पोल में सबसे ज्यादा 30.9 प्रतिशत वोट मिले. वह अपने प्रतिद्वंदियों व्लादिमीर पुतिन, डोनाल्ड ट्रंप और शी जिनपिंग से काफी आगे थे. इस पोल में मोदी के बाद दूसरे सबसे ताकतवर शख्स रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन रहे, जिन्हें 29.9 प्रतिशत वोट मिले. वहीं 21.9 प्रतिशत लोगों ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को सबसे ताकतवर शख्स माना. इसके बाद चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग का नंबर आया, जिन्हें 18.1 प्रतिशत लोगों ने वोट दिया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर ब्रिटिश हेराल्ड मैगजीन के जुलाई संस्करण के कवर पेज पर भी प्रकाशित की जाएगी. यह एडिशन 15 जुलाई को रिलीज होगा.
ब्रिटिश हेराल्ड की वेबसाइट पर छपे आर्टिकल के मुताबिक हालिया महीनों में पीएम मोदी को भारतीयों की ओर से बेहद ज्यादा अप्रूवल रेटिंग्स मिली हैं. 2019 लोकसभा चुनाव में आतंकवाद के खिलाफ अपने रुख और बालाकोट में आतंकी कैंपों पर एयरस्ट्राइक के बाद उनके समर्थकों में भारी इजाफा हुआ. इसके अलावा आयुष्मान भारत, उज्जवला योजना और स्वच्छ भारत अभियान ने भी उनकी लोकप्रियता में काफी इजाफा किया.  

MOLITICS SURVEY

मॉब लिंचिंग किस वजह से हो रही है ?

दाढ़ी
  5.66%
टोपी
  9.43%
राष्ट्रवाद
  84.91%

TOTAL RESPONSES : 53

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know