बीजेपी की त्रिपुरा सरकार पर संकट के बादल, गठबंधन दल ने दी साथ छोड़ने की धमकी
Latest News
bookmarkBOOKMARK

बीजेपी की त्रिपुरा सरकार पर संकट के बादल, गठबंधन दल ने दी साथ छोड़ने की धमकी

By Zeenews calender  22-Jul-2019

बीजेपी की त्रिपुरा सरकार पर संकट के बादल, गठबंधन दल ने दी साथ छोड़ने की धमकी

त्रिपुरा में सत्तारूढ़ बीजेपी और क्षेत्रीय आईपीएफटी गठबंधन की सरकार में दरार पड़ने की खबर है. दोनों दलों के बीच तनातनी देखी जा रही है. एक दूसरे पर छींटाकशी भी हो रही है. त्रिपुरा की राजधानी अगरतला में आयोजित एक प्रेस मीट के दौरान बिप्लब देब सरकार में साझीदार इंडिजेनस पीपुल फ्रंट ऑफ़ त्रिपुरा (आईपीएफटी) दल के प्रवक्ता मंगल देब बर्मा ने कहा की त्रिपुरा सरकार के साथ सबकुछ सही सही नहीं चल रहा है. आईपीएफटी पार्टी अपने नीतियों से समझौता नहीं कर सकती है और न ही सरकार की नीतियों पर सहमती रखती है. आईपीएफटी दल के नेता मंगल देब बर्मा ने अगरतला में मीडिया को सम्बोधित करते हुए कहा- 'बीजेपी के साथ गठजोड़ कर त्रिपुरा में सरकार बनाने की कवायद इसलिए की थी क्योंकि ये समय और त्रिपुरी लोगों की मांग थी. पर अब हमारी पार्टी विकल्प की तलाश में है.' बता दें की इंडिजेनस पीपल फ्रंट ऑफ़ त्रिपुरा के नेता मंगल देब बर्मा ने मीडिया में त्रिपुरा की बिप्लब देब नेतृत्व बीजेपी पार्टी पर आरोप लगाया कि 14 जून को त्रिपुरा में आईपीएफटी कार्यकर्ताओं पर बीजेपी के गुंडों ने हमला किया. उनके घर पर भी हमला किया. इस दौरान आईपीएफटी कार्यकर्ताओं के सम्पतियों को भी नुकसान पहुंचाया गया. अगरतला में आयोजित मीडिया को सम्बोधित करते हुए इंडिजिनियस पीपुल फ्रंट ऑफ़ त्रिपुरा के प्रवक्ता मंगल देबबर्मा ने कहा कि 23 मई को लोकसभा चुनाव के परिणाम आने के बाद से ही त्रिपुरा में एपीएफटी के 30 मंडलों में कार्य कर रहे 100 से अधिक कार्यकर्ताओं पर आक्रमण कर घायल किया गया. इनके खिलाफ झूठे मामले पुलिस थाने पर दर्ज करवाए गए.

MOLITICS SURVEY

मॉब लिंचिंग किस वजह से हो रही है ?

दाढ़ी
  5.66%
टोपी
  9.43%
राष्ट्रवाद
  84.91%

TOTAL RESPONSES : 53

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know