छोटी पार्टियों के विलय प्रस्ताव पर RJD एकमत नहीं, मौका ढूंढ रही कांग्रेस
Latest News
bookmarkBOOKMARK

छोटी पार्टियों के विलय प्रस्ताव पर RJD एकमत नहीं, मौका ढूंढ रही कांग्रेस

By News18 calender  09-Jun-2019

 छोटी पार्टियों के विलय प्रस्ताव पर RJD एकमत नहीं, मौका ढूंढ रही कांग्रेस

लोकसभा चुनाव में करारी शिकस्त के बाद महागठबंधन के छोटे दलों के आपसी विलय की चर्चा ने जोर पकड़ा. कांग्रेस ने तो खुलकर कहा कि छोटी पार्टियों का बड़े दलों में विलय हो जाना चाहिए. शुरुआत में आरजेडी ने भी यही बात कही, लेकिन जैसे-जैसे समय बीतता जा रहा है और नई रणनीतियों पर बातचीत आगे बढ़ रही है कई पार्टियों के भीतर विलय के प्रस्ताव पर एकमत नहीं है. यहां तक कि आरजेडी जैसी पार्टियों में अलग-अलग नेताओं के अलग-अलग विचार सामने आ रहे हैं.

राष्ट्रीय जनता दल के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवंश सिंह विलय के प्रस्ताव के समर्थन में हैं. वे कहते हैं,  भाजपा को चुनौती देने के लिये छोटे दलों के बड़ी पार्टियों में विलय समय की जरूरत है.
 

MOLITICS SURVEY

क्या कांग्रेस का महागठबंधन से अलग रह के चुनाव लड़ने की वजह से बीजेपी को पूर्ण बहुमत मिला है?

हाँ
  51.35%
नहीं
  43.24%
अनिश्चित
  5.41%

TOTAL RESPONSES : 37

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know