मोदी सरकार ने अधिकारियों से कहा- 100 नहीं 1000 दिन का बनाएं एजेंडा, यह होगा खास
Latest News
bookmarkBOOKMARK

मोदी सरकार ने अधिकारियों से कहा- 100 नहीं 1000 दिन का बनाएं एजेंडा, यह होगा खास

By Amarujala calender  25-May-2019

मोदी सरकार ने अधिकारियों से कहा- 100 नहीं 1000 दिन का बनाएं एजेंडा, यह होगा खास

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को देश की जनता ने प्रचंड बहुमत से जीत दिलाई है। अब 30 मई को वह दोबारा प्रधानमंत्री पद की शपथ ले सकते हैं। इस बार खास बात यह होगी कि वह 100 दिन नहीं बल्कि 1000 दिन के एजेंडे पर कार्य करेंगे जिसे 2022 के मध्य तक खत्म करना होगा। इसी साल भारत की आजादी को 75वां साल पूरे हो जाएंगे। यह बात दो अधिकारियों ने बताई है।
हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार एजेंडे में बहुत सी चीजें शामिल होंगी। जिसमें महिलाओं को कृषि क्षेत्र में सशक्त बनाने से लेकर भारतीयों को अंतरिक्ष में भेजना तक शामिल होगा। दूसरे कार्यकाल में मोदी ने न्यू इंडिया बनाने का वादा किया है और वह इसे पूरा करने की तरफ कार्य करेंगे।

एक महत्वपूर्ण सरकारी विभाग में काम करने वाले अधिकारी ने कहा, 'हमें 1000 दिनों का एजेंडा तैयार करने के निर्देश दिए गए हैं। नए मंत्री और विभागाध्यक्षों को 2022 तक इन उद्देश्यों को पूरा करने के लिए एक व्यापक रणनीति तैयार करनी होगी।' एजेंडे में अंत्योदय (गरीबों के उत्थान) जोकि समावेशी सामाजिक कल्याण कार्यक्रम है उसपर निरंतर जोर दिया जाएगा।

इसी तरह के कार्यक्रमों पर जोर दिया जाएगा जिसने 2200 लाख लोगों को फायदा पहुंचाया है। इसी कारण एनडीए पर लोगों ने भरोसा जताते हुए उसे दोबारा सत्ता की चाबी सौंपी है। माना जा रहा है कि मोदी ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वह 100 दिन के एजेंडे की बजाए तीन सालों की व्यापक रणनीति तैयार करें।

MOLITICS SURVEY

क्या कांग्रेस का महागठबंधन से अलग रह के चुनाव लड़ने की वजह से बीजेपी को पूर्ण बहुमत मिला है?

हाँ
  51.35%
नहीं
  43.24%
अनिश्चित
  5.41%

TOTAL RESPONSES : 37

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know