मणिपुर लोकसभा सीटें: कांग्रेस के लिए मणिपुर की दोनों सीटें बचाना आसान नहीं
Latest News
bookmarkBOOKMARK

मणिपुर लोकसभा सीटें: कांग्रेस के लिए मणिपुर की दोनों सीटें बचाना आसान नहीं

By News18 calender  17-May-2019

मणिपुर लोकसभा सीटें: कांग्रेस के लिए मणिपुर की दोनों सीटें बचाना आसान नहीं

मणिपुर में लोकसभा की दो सीटें हैं- इनर मणिपुर लोकसभा सीट और आउटर मणिपुर लोकसभा सीट. दोनों सीटों पर कांग्रेस का कब्जा है. इन दोनों सीट पर इस बार कांग्रेस और बीजेपी के बीच मुकाबला है.

इनर मणिपुर लोकसभा सीट
इनर मणिपुर लोकसभा सीट से कांग्रेस के डॉ थोकचोम मेन्या मौजूदा सांसद हैं. हालांकि इस बार उनका टिकट कट गया है. डॉ थोकचोम मेन्या इस सीट से लगातार 3 बार जीत हासिल कर चुके हैं. 2004, 2009 और 2014 के लोकसभा चुनाव में उन्होंने लगातार जीत हासिल की. 2014 के चुनाव में थोकचोम मेन्या ने सीपीआई उम्मीदवार मॉयरांग थेम को 94 हजार 674 वोटों से शिकस्त दी थी. थोकचोम मेन्या ने 2 लाख 92 हजार 102 वोट हासिल किए थे. जबकि सीपीआई के मॉयरांगथेम को 1 लाख 97 हजार 428 वोट मिले थे.

2004 से पहले इस सीट पर तीन बार बीजेपी का कब्जा भी रह चुका है. 1996, 1998 और 1999 के चुनाव में यहां से बीजेपी के चौबा सिंह लगातार तीन बार सांसद चुने गए थे. इस सीट से मणिपुर पीपल्स पार्टी और सीपीआई के उम्मीदवार भी जीतते रहे हैं.
2019 के चुनाव में मुख्य मुकाबला कांग्रेस, बीजेपी और सीपीआई उम्मीदवार के बीच है. बीजेपी ने इस सीट से मशहूर पर्यावरणविद आर के रंजन को उतारा है. आर के रंजन 2014 के चुनाव में तीसरे स्थान पर रहे थे. कांग्रेस ने भी अपना कैंडिडेट बदला है. कांग्रेस के टिकट पर नबा किशोर सिंह चुनाव लड़ रहे है. नबा किशोर सिंह मणिपुर के सचिव रह चुके हैं. इनके साथ इस सीट से सीपीआई के मोइरंगथेम नारा सिंह भी चुनाव मैदान में हैं. एनपीपी का इस चुनाव में बीजेपी के साथ समझौता हुआ है इसलिए उसने अपना उम्मीदवार नहीं उतारा है.
आउटर मणिपुर लोकसभा सीट
आउटर मणिपुर लोकसभा सीट से कांग्रेस के थांगसो बाइटे सांसद हैं. 2014 के चुनाव में उन्होंने एनपीएफ के सोसो लोहरो को 15 हजार से ज्यादा वोटों से शिकस्त दी थी. थांगसो को कुल 2 लाख 96 हजार 770 वोट हासिल हुए थे. जबकि सोसो लोहरो को 2 लाख 81 हजार 133 वोट मिले थे. थांगसो बाइटे इस सीट का 2009 से प्रतिनिधित्व कर रहे हैं. 2004 के चुनाव में यहां से निर्दलीय प्रत्याशी मणि चर्नेमई ने जीत हासिल की थी. इसके पहले इस सीट से सीपीआई के उम्मीदवार भी जीत चुके हैं.

2019 के चुनाव में कांग्रेस ने अपने मौजूदा सांसद का टिकट काटा है. कांग्रेस की टिकट पर के जेम्स चुनाव लड़ रहे हैं. बीजेपी ने यहां से होलेम शोखोपाओ मैट को टिकट दिया है. मुकाबले में नगा पीपल्स फ्रंट के लोर्हो एस फोज और एनसीपी के अंगम कारुंग भी हैं.

MOLITICS SURVEY

ट्रैफिक रूल्स में हुए नए बदलाव जनता के लिए !

फायदेमंद
  33.33%
नुकसानदायक
  66.67%

TOTAL RESPONSES : 24

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know